किसानों को संक्रियात्मक मौसम सेवाएं

संगठन पर वापसी

भारत में किसानों के लिए संक्रियात्मक मौसम सेवाएं आई.एम.डी. द्वारा जिला ए.ए.एस. बुलेटिन . के रुप में 1945 से आरंभ हुई । जिला ए.ए.एस. बुलेटिन सप्ताह में दो बार जारी होती है ।

पूर्वानुमान और चल रही जोताई पद्धतियों पर निर्भर प्रमुख फसलों की जानकारी, उनकी संवृद्धि अवस्था, स्थिति और कृषि मौसम विज्ञान परामर्श सम्मिलित करने के लिए अखिल भारतीय कृषि मौसम विज्ञान परामर्श सेवा (ए.ए.एस.)बुलेटिन प्रत्येक बृहस्पतिवार और शुक्रवार को आई.एम.डी. के कृषि मौसम विज्ञान प्रभाग में बनाए गए तथा कृषि समुदाय से संबंधित विभिन्न पार्टियों को आपूर्तित किए जाते हैं ।

साथ ही, अखिल भारतीय मौसम और फसल बुलेटिन बनाई गई, जिसमें दैनिक/साप्ताहिक मौसम रिपोर्ट, माह के लिए ए.ए.एस. बुलेटिनें, फसल मौसम निगरानी समूह रिपोर्ट तथा प्रेस रिपोर्ट से जानकारी दी गई है ।

यथार्थ समय आधार पर अनावृष्टि अनुवीक्षण के लिए, शुष्कता विसंगती मानचित्र संपूर्ण देश के लिए बनाए गए तथा पखवाडे में एक बार जारी होते हैं ।